जानिए आपके लिए कितना खतरनाक है स्मार्ट फोन

स्मार्टफोन ने आज लाइफ को आसान बना दिया है। किसी भी काम को स्मार्टफोन से करना बड़ा सरल हो गया है। युवा तो स्मार्टफोन से हमेशा चिपके रहते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि इस मोबाइल हैंडसेट को आप हर वक्त .....

आगे पढ़ें...

ईद है मानव से मानव के मिलन का त्योहार



भारतवर्ष की ख्याति जहां यहां के सांप्रदायिक सौहार्द एवं आपसी सद्भावना के कारण है वहीं यहां के पर्व-त्योहारों की धर्म-समन्वय एवं एकता के कारण भी है। इन त्योहारों में इस देश की सांस्कृतिक विव.....

आगे पढ़ें...

बाबरी विध्वंस: अयोध्या में गोली चलवाकर मुलायम ने निभाया था अपना उत्तरदायित्व

समाजवादी पार्टी (सपा) के कद्दावर नेता और राज्यसभा में पार्टी के नेता रामगोपाल यादव ने वर्ष 1990 मे तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव द्वारा अयोध्या में गोली चलवाने के निर्णय का सही ठहराते हुये कहा.....

आगे पढ़ें...

देश के सरकारी अस्पतालों में ‘रोगियों की हो रही घोर उपेक्षा’

डाक्टरी पेशे को आदर्श पेशा माना जाता है और इसीलिए समाज में डाक्टरों को सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। इसी कारण करियर अपनाते समय वे शपथ लेते हैं कि मैं अपना दायित्व पूरी ईमानदारी से निभाऊंगा परंतु क.....

आगे पढ़ें...

1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22
 

सम्पादकीय

भ्रष्टाचार के गर्त में डूबे देश में "हेलीकाप्टर" की क्या औकात?
जब बात हिन्दू-मुसलमान की नहीं इंसान की होगी तब कांग्रेस-बीजेपी भी नहीं होगी
पत्रकारिता करते हुये भी पत्रकार बने रहने की चुनौती
अब देश का कंधा नहीं सत्ता का धंधा देखें
वहाबी शरिया जिहादी जरिया
डल लेक में बेमौसम कमल खिलाकर जम्मू ने सियासत उलट दी !
जब सत्ता ही देश को ठगने लगे तो...!!!
धर्मांतरण पर संघ का पाठ पीएम कैसे पढें?
कैसे साकार हो ‘स्वस्थ भारत’ बनाने का सपना
भारत की राजनीति के महानायक पं. दीनदयाल उपाध्याय
न्याय मंदिरों में पारदर्शिता व जवाबदेही सुनिश्चित हो
विवाह में माता-पिता की स्वीकृति
अब ‘जेहाद’ के निशाने पर भारत
इस्राइल और हमास, एक अंतहीन विवाद
नए विश्वविद्यालय खोलने की बजाय गुणात्मक शिक्षा देने की जरूरत
कौसरनाग यात्रा पर हुर्रियत का विरोध कितना न्यायोचित?
जमहूरियत पर हावी होता जेहाद
धारा 370 और वास्तविकता
रोमन साम्राज्य की तर्ज पर कांग्रेस का पतन
क्या मोदी विकास का ककहरा झारखंड के टटरा से पढ़ेंगे
मोदी के जनादेश तले संघ परिवार का संकट
विद्रोह की मशाल जलाने वालों ने पाला है मोदी का सपना
जनादेश 2014 : ‘सर्वधर्म समभाव’ की विजय
भारतीय समाज में फैले कट्टरवाद के लिए सैकुलरिस्ट जिम्मेदार
आजादी के बाद पहली बार क्यों टकरा रहे हैं नेहरु परिवार और संघ परिवार
कलयुग के महाभारत में काशी कैसे कुरुक्षेत्र बन गयी
तो अच्छे दिन ऐसे आयेंगे...
कभी साजिश के तहत दिल्ली से गुजरात भेजे गये थे मोदी !
आजादी के बाद मुसलमानों की अग्नि-परीक्षा !
नेहरू-गांधी परिवार के बिना भी भारत फले-फूलेगा
हिन्दुओं को अपमान सहने की आदत क्यों
मोदी को पारस या केजरी को पत्थर, किसे क्या मिलेगा बनारस में ?
भटकते हुए क्या खोज रहे हैं राहुल गांधी
बीजेपी को राजनीति का ककहरा पढ़ा रहा है संघ
हर दाग धो देंगे मोदी के तीन इक्के !
सोशल इंजीनियरिंग संघ की बिसात पर
शुक्र है, सुप्रीम कोर्ट है!
काशी की कसौटी पर...
बीजेपी का साउथ में `समझौता`
`नो ट्रस्‍ट सिंड्रोम` में आडवाणी
सत्ता हर कीमत पर
सियासतदानों का क्राउड मैनेजमेंट
`बेसहारा` हुआ सहारा!
कांग्रेस-बीजेपी का साझा संकट
यंग इंडिया और मोदी
सियासी आतंकवाद?
कांग्रेस का नया फॉर्मूला
आरक्षण की प्रासंगिकता
सियासत के ब्राण्ड
तो क्या मोदी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे?
इतिहास का सबसे काला अध्याय : 15वीं लोकसभा का पतन
62 बरस का अंधेरा 2014 की उम्मीद तले
चुनाव परिणाम बादशाहत के अहंकार पर चोट
एक 'खोजी' पत्रकार का हश्र अब जब पोल खुल ही रही है तहलका की, क्यों न मैं एक-दो और खोल दूं
टूट गया तिलिस्म
जब पटेल ने किया कैबिनेट कमेटी की बैठक से वाकआऊट
नेहरू बनाम पटेल, लड़ाई पुरानी है
शराफत के चोले में शरीफ और हम
राहुल गांधी खुद ही अपने ‘दुश्मन’
असाध्य रोग से ग्रसित सी.बी.आई.
सरकारी मनमर्जी के कारण घोटाले बंद होना असंभव
राहुल गांधी ने 72 घंटे की देर क्यों लगाई
राजनीति में अपराधीकरण देश के लिए सबसे बड़ा संकट
सत्ताधारियों के इशारे पर नाचना बंद करे प्रशासनिक सेवा
जब महात्मा गांधी ने कांग्रेस को ‘दफनाने’ की बात कही
भारतीय जवान, एलओसी, पांच हत्याएं, एक्सप्रैस ट्रिब्यून, नियंत्रण रेखा, लश्कर ए तोयबा, आईएसआई, जैश ए मोहम्मद
पाकिस्तान से ‘सरकारी प्रेम’ का अर्थ क्या है
आडवाणी-भागवत के संघर्ष में मोदी महज प्यादा
राहुल गांधी ने पीएम की टोपी क्यों उछाली?
15 अगस्त : वक्त मिले तो सोचिएगा
इस देश में कौन सुरक्षित है.....अपना नाम बताये
दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का खोखलापन
..तो संजय दत्त को माफी दे देनी चाहिये !
खाकी का खून बहेगा, खादी मौज करेगा और नक्सलियों को ग्रामीणों का साथ मिलेगा
सुप्रीम कोर्ट का हंटर बनाम दागी नेताओं की मोटी खाल
24 बरस में 372 करोड़ का गोसीखुर्द 14000 करोड़ पार कर गया
किसान का दर्द और राजनेताओं का मजा
अब पत्रकार क्या करें
जो ज़िंदगी के लिए मौत को चुनते हैं...
जिन्हें नाज है हिन्द पर वह कठघरे में है
पारिवारिक लोकतंत्र का अलिखित संविधान
भ्रष्ट नौकरशाहों के जरिये राडिया ने खेला खेल
सवा सौ साल की कांग्रेस की ईमानदारी
गांधी से गांधी परिवार का फर्क
आतंरिक सुरक्षा को खतरे का मतलब ?
जहां आतंकवाद की दस्तक नहीं,वहां युद्ध की तैयारी है
मस्त लोगों के मरे हुये मन
साधु,सिपाही और मुस्लिम आतंकवाद में कहां है देश
अमेरिका में बाजार हारा है, भारत में लोकतंत्र

फेसबुक