वाणिज्य बन्धु की बैठक : जीएसटी के अधिकारियों द्वारा व्यापारियों को गलत तरीके से नोटिस भेजकर पंजीयन निलंबन करने की शिकायत

नगर निगम द्वारा हाउस टैक्स बकाए पर दुकानों को सील किए जाने पर आदर्श व्यापार मंडल ने वाणिज्य बंधु की बैठक में नाराजगी व्यक्त की तथा सीलिंग की कार्रवाई बंद करने की मांग की

क्राइम रिव्यू

लखनऊ। कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को”वाणिज्य बंधु” की बैठक का आयोज किया गया। बैठक में उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता ने जीएसटी विभाग के अधिकारियों द्वारा व्यापारियों को मनमाने तरीके एवं गलत उद्देश्य से भेजी जा रही नोटिसो एवं जीएसटी पंजीयन निलंबित किए जाने की शिकायत की।व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने खंड 16 के एक व्यापारी का मामला उठाया जो 2018 से पंजीकृत है, का पंजीयन अधिकारी ने इस आधार पर निलंबित कर दिया कि उपरोक्त पते पर फर्म स्थित नहीं है। जबकि पिछले 2 साल से उसी पते पर फम चल रही है तथा संबंधित सभी साक्ष्य भी व्यापारी द्वारा पोर्टल पर नोटिस के जवाब में उपलब्ध कराए गए। उसके बावजूद व्यापारी का जीएसटी नंबर निलंबित कर दिया गया। उन्होंने प्रश्न उठाया पंजीयन के 2 साल साल बाद अधिकारी द्वारा सर्वे किया जा रहा है तो अधिकारी 2 साल से क्या कर रहे थे। ऐसे में सवाल उठता है यदि व्यापारी फर्जी होता तो विभाग को आर्थिक चोट पहुंचा चुका होता। उस स्थिति में जिम्मेदार कौन होता। व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने पूरे प्रकरण एवं संबंधित अधिकारी की जांच की मांग की ताकि भविष्य में कोई अधिकारी व्यापारी के साथ गलत ना कर सके।

आदर्श व्यापार मंडल ने बैठक में नगर निगम द्वारा कमर्शियल हाउस टैक्स बकाया होने पर व्यापारियों की दुकानों को सील किए जाने मुद्दा भी उठाया तथा इस पर आपत्ति जताते हुए कहा करोना काल में सभी के सामने आर्थिक संकट है। ऐसे में व्यापारियों को भुगतान हेतु समुचित अवसर मिलना चाहिए। ना कि विभाग द्वारा सीलिंग की कार्रवाई कर व्यापारी को मानसिक कष्ट एवं समाजिक प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाना चाहिए। व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने नगर निगम द्वारा की जा रही दुकानों की सीलिंग की कार्रवाई को रोकने की मांग की।

बैठक में आदर्श व्यापार मंडल से प्रांतीय अध्यक्ष संजय गुप्ता के साथ प्रदेश कोषाध्यक्ष मोहम्मद अफजल, नगर अध्यक्ष हरजिंदर सिंह , नगर महामंत्री संजय त्रिवेदी, प्रदेश उपाध्यक्ष इकबाल हसन ,उपाध्यक्ष मोहित कपूर, ट्रांस गोमती प्रभारी मनीष पांडे, ट्रांस गोमती अध्यक्ष अनिरुद्ध निगम मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!